योगी की गुंडागर्दी या सुशासन ?

1
योगी की गुंडागर्दी या सुशासन ?
योगी की गुंडागर्दी या सुशासन ?

योगी की गुंडागर्दी या सुशासन ? भारत सरकार की भारतीय सेना भर्ती ‘अग्निपथ योजना’ का चारों ओर विरोध हो रहा है और इस विरोध के चलते देश में जगह-जगह हालात बद से बदतर हो रहे हैं । सरकार की तरफ से अभी तक कोई बयान युवाओं के लिए जारी नहीं किया गया है ।

( योगी की गुंडागर्दी या सुशासन ? )तो क्या सरकार अपनी बात युवाओं तक रखना नहीं चाहती ?

खैर इस बीच एक ज़रूरी खबर उत्तरप्रदेश से आ रही है जहाँ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उनकी पुलिस का रौद्र रुप देखा गया है । पुलिस ने विरोध कर रहे युवाओं पर डंडे और लठ्ठ की बारिश कर दी है और उनकी सरेआम धुलाई की है । ज़ाहिर सी बात है कि प्रशासन की ओर से पुलिस को फौरन विरोध रोकने और खत्म करने का आदेश आया है और उसी के चलते पुलिस ने इस कारवाई को अंजाम दिया है ।

इस योजना का सबसे ज़्यादा विरोध बिहार और उत्तर प्रदेश में ही हो रहा है और अब यह उग्र रूप ले रहा है । इस विरोध पर राजनीति भी शुरू हो गई है लेकिन केंद्र सरकार ने अभी तक सामने आकर कोई बयान जारी नहीं किया है । देखने वाली बात ये है कि पुलिस की इस धुलाई में वो मासूम छात्र भी आ गए हैं जो सच में भर्ती प्रक्रिया को लेकर गंभीर हैं और शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं ।

Also Read : योगी ने कहा – किसी के बहकावे में न आएं, अग्निपथ योजना लाभकारी

योगी की पुलिस ने कानून हाथ में लिया – कांग्रेस 

पुलिस द्धारा लोगों की धुलाई का वीडियो जमकर वायरल हो रहा है और वीडियो के वायरल होते ही राजनीति पार्टियों और नेताओं की प्रतिक्रिया आनी शुरू हो गई है । एक तरफ इसे योगी आदित्यनाथ की गुंडागर्दी बताया जा रहा है तो दूसरी और इसे सत्ता का दुरुपयोग बताया जा रहा है ।

फिलहाल सोचने वाली बात ये है कि ये समस्या अब सुलझे कैसे ?

कौन है जो इसकी ज़िम्मेदारी लेगा और कौन है जो देश को बताएगा कि अग्निपथ योजना कैसे युवाओं के लिए लाभदायक है ? क्या न्यूज़ चैनलों पर यूं ही बेतुकी और बिना अंजाम बहस चलती रहेगी या इसका कुछ नतीजा भी निकलकर आएगा । अब समय ही बताएगा कि इस योजना से क्या लाभ और क्या हानि होती है । 

1 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें