योगी ने कहा – किसी के बहकावे में न आएं, अग्निपथ योजना लाभकारी

0
योगी ने कहा
योगी ने कहा

योगी ने कहा इस समय पूरे भारत में मोदी सरकार द्धारा लाई जा रही अग्निपथ योजना का विरोध हो रहा है । वो युवा जो सेना में भर्ती होने का एक ही सपना लेकर रोज़ तैयारी कर रहे हैं, वो इस समय आगबबूला हो गए हैं । देश में चारों ओर प्रदर्शन हो रहा है लेकिन न सरकार बात करने को तैयार हो रही है और न युवा । बस विरोध हो रहा है, इसमें सबसे ज़्यादा नुकसान सार्वजनिक संपत्ति जैसे – बस, ट्रेन को हो रही है । न्यूज़ चैनल पर हमेशा की तरह बेनतीजा बहस चल रही है, हर कोई अपने राग अलाप रहा है लेकिन समाधान कोई नहीं बता रहा ।

( योगी ने कहा ) क्या है योजना ?

सीधी बात है – सेना में नौकरी सिर्फ 4 साल की होगी, तनख्वाह 30 हजार होगी और पेंशन होगी नहीं । ये योजना सरकार क्यों ला रही है, इसके पीछे मकसद क्या है और इससे नौजवानों को क्या लाभ होगा, जब तक सरकार ये साफ नहीं करेगी, ये आंदोलन रुकने वाला नहीं है । इस विरोध की सबसे ज़्यादा लहर उत्तर प्रदेश में देखी जा रही है और विरोध धीरे-धीरे उग्र रूप लेता जा रहा है । रेलवे ट्रेक, बस अड्डे जाम कर दिए गए हैं, इसके अलावा दिल्ली में कईं रेलवे स्टेशन को फिलहाल के लिए बंद किया जा रहा है । इसी बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपनी चुप्पी तोड़ी है और लोगों को ट्वीटर के माध्यम से अपील की है । 

क्या कहा योगी ने ?

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनता से अपील की है और लिखा है कि – आप सभी लोग किसी के बहकावे में न आएं, अग्निपथ योजना आपके भविष्य को उज्जवल बनाने के उद्देश्य से लाई गई है, अग्निवीर देश की अमूल्य निधि होंगे और उन्हें उत्तर प्रदेश पुलिस में वरियता दी जाएगी । योगी ने सरकार के फैसले का बचाव करते हुए कहा है कि – लोग समझने का प्रयास करें और जो लोग गलत अफवाहें फैला रहे हैं, उनकी बातों पर ध्यान न दें । 

लेकिन क्या इतना कहना भर काफी है,

जिस तरह के हालात देश में हो रहें हैं और लगातार बढ़ते जा रहें हैं, उसमें मुख्यमंत्री का एक ट्वीट क्या हालात सुधार सकता है । आपको बता दें कि बढ़ते-बढ़ते ये आंदोलन उत्तर प्रदेश के 10 जिलों में फैल गया है और लगातार बढ़ता जा रहा है, अगर जल्दी कोई एक्शन नहीं लिया गया तो स्थिति खराब हो सकती है । सरकार को अग्निपथ योजना पर अपनी सफाई युवाओं को देनी होगी और ये भी बताना होगा कि अग्निपथ योजना पहले से चली आ रही योजनाओं से कैसे बेहतर है और अगर सरकार ये साफ नहीं करती तो टीवी न्यूज़ चैनल वाले यूं ही बेतूकी बहस करते रहे तो विरोध प्रदर्शन उग्र हो सकता है । इसलिए हमारी सरकार से गुज़ारिश है कि तुरंत कोई सूचना जारी करें, अपना पक्ष आकर रखें और युवा भी शांत रहें और सरकार को कुछ समय दे ताकि वो इसपर एक सोचा समझा निर्णय ले सके और अपनी बात साफ कर सके । 

आपको खबर कैसी लगी, हमें कमेंट करके बताएं ।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें