Adhoore pyaas part 7

Adhoore pyaas अधूरी प्यास

Adhoore pyaas हवस का जवानी के साथ बिल्कुल वैसा ही रिश्ता होता है जैसा आग में पेट्रोल का । इसे जितना भड़काना चाहो ये उससे ज्यादा भड़कती है । श्रेया के साथ भी यही हो रहा था, लड़कों से संबंध बनाते बनाते अब वो बेशशर्मी और वासना की ऐसी आग में कूद गई थी जहाँ से बाहर आना उसके लिए मुमकिन नहीं था । लड़कों ने उसके चाद चुदाई की वीडियो बनाकर उसे भेजी थी और उन फोटो और वीडियो का इस्तेमाल वो तब करती थी जब वो चुदाई नहीं करवा सकती । कोरोना वायरस की वजह से ऐसा कईं बार हुआ जब वह घर से बाहर नहीं निकल पा रही थी लेकिन उस वक्त वो इन वीडियो को देखकर चूत में उंगली दे देकर मुठ मार रही थी । उसे न परिवार की फिक्र थी और न ही अपने लड़की होने की और यही हालात उसे रोज़ वासना की एक नई कहानी के लिए उकसा रहे थे ।

Adhoore pyaas
copyright to mypornvid.fun

कौशल जो श्रेया के पड़ोस वाली बिल्डिंग में रहता था,

बहुत दिनों से श्रेया को देखा करता था लेकिन वह श्रेया में प्यार ढूंढ रहा था बस उसे इंतजार था तो सही वक्त का । सही वक्त भी आ गया और उसने श्रेया से अपने दिल की बात कह दी और श्रेया ने मना कर दिया । बात वही खत्म हो गई लेकिन क्या श्रेया हाथ में आए एक लड़के को जाने देती । श्रेया ने कौशल से थोड़ा वक्त मांगा और कौशल का फोन नंबर ले लिया । अब कौशल और श्रेया के बीच में दिन में कुछ बातें हो जाया करती थी । श्रेया कौशल को सेक्स के लिए उकसाती लेकिन वो प्यार भरी बातें करता लेकिन जब लगातार ऐसा होने लगा तो कौशल के मन में भी वासना की चिंगारी उठी और आखिरकार वो भी श्रेया की वासना का शिकार हो गया । अब श्रेया को लॉकडाउन के लिए एक ऐसा ज़रिया मिल चुका था जिसको वो जब चाहे अपनी हवस की आग के लिए इस्तेमाल कर सकती थी इसलिए उसने एक दिन कौशल को फोन किया और अपने घर बुलाया । कौशल जब उसके घर आया तो उसने उसे अपने माता-पिता से मिलाया ताकि जो प्लान उसके दिमाग में था वो सही से हो जाए । अब वो रोज़ किसी न किसी काम या मदद के बहाने कौशल को बुला लेती । कुछ ही दिनों में कौशल का उसके परिवार से अच्छा रिश्ता बन गया । अब कौशल श्रेया के घर के काम भी करने लगा था । कभी उसकी माँ के साथ बाज़ार चले जाना तो कभी घर का कोई दूसरा काम कर देना । एक महिने ऐसा ही चलता रहा और अब श्रेया जो चाहती थी वो हो चुका था ।

श्रेया अब एक दिन भी बिना चुदे नहीं रह सकती थी Adhoore pyaas

लेकिन इस बार लड़के से ज्यादा वो बेचैन थी क्योंकि उसे चुदाई किए हुए काफी वक्त हो चुका था । एक दिन श्रेया के मां-बाप किसी काम से शहर के बाहर चले गए और वो दो दिन के बाद आने वाले थे । जाते-जाते उन्होनें कहा कि अगर कोई परेशानी हो तो कौशल को बुला लेना । हवस और वासना को बुझाने के लिए जो माहौल वो चाहती थी वो बन चुका था । श्रेया ने फोन करके कौशल को बुला लिया और उसके होठों को ऐसे रगड़ने लगी जैसे चूस रही हो । कौशल भी इस पल को खोना नहीं चाहता था और एक सच ये भी है कि जिससे आप प्यार करते हो उसे चोदने में मज़ा बहुत आता है । श्रेया ने अपनी जीब कौशल के मुंह में डाल रखी थी और उसने कौशल का हाथ अपनी जींस के अंदर घुसा दिया था ।

Adhoore pyaas
copyrights to owner

वो चाहती थी कि कौशल उसकी चुत में ऊंगली करता रहे Adhoore pyaas

ताकि हवस किसी भी तरह कम न हो और कौशल को भी उसे चोदने का चस्का लग जाए । क्योंकि घर दो दिन खाली था तो वो इस मौके का पूरा इस्तेमाल करना चाहती थी । थोड़ी देर होठों को चूसने के बाद उसने पैंटी से कौशल का हाथ बाहर निकलवा लिया और उसकी उंगलियों को चाटने लगी । फिर उसने अपना टॉप खोल दिया और काली ब्रा में खड़ी हो गई । श्रेया की जींस बहुत टाइट थी और इसी वजह से उसकी गांड पूरी तरह शेप में भी थी और उसे दबाना बहुत आसना हो गया था । श्रेया ने कौशल के हाथों को अपने चूचों से दबवाना शुरु कर दिया । जैसे जैसे श्रेया के चूचे दब रहे थे कौशल का लंड गीला हो रहा था । श्रेया की चूत भी गीली होनी शुरु हो गई थी । अब श्रेया ने कौशल की शर्ट उतार दी और उसकी छाती को चूसने लगी ।

छाती को चूसने में श्रेया की हवस कौशल को पागल सा कर रही थी और

कौशल भी अब ब्रा को नीचे खिसकाकर श्रेया के चूचे चूस रहा था । श्रेया के चूचे टाइट थे इसलिए श्रेया को भी वो एहसास हो रहा था जो उसने पहले कभी महसूस नहीं किया था । कौशल ने श्रेया को चुमते चुमते उसकी ब्रा का हुक खोल दिया और फिर उसके मुंह में अपना लंड दे दिया । श्रेया भी यही चाहती थी । वो ये चाहती थी कि चुदाई का हर तरीका वैसा हो जैसा वो चाहती है, जितने जोशिले तरीके से वो चुदना चाहती थी वो कौशल को चरमसुख का आनंद देने वाला था । अब श्रेया ने पैंटी खोल दी और कौशल को टेबल के पास आने को कहा । कौशल टेबल के पास आया तो श्रेया ने कहा कि चूत में लंड डालना और उसके बाद मुझे लंड पर बैठाकर झटकों के साथ चोदना । कौशल वैसा ही कर रहा था जैसा श्रेया उसे करने को कह रही थी । कौशल ने श्रेया को झटकों के साथ चोदना शुरु कर दिया ।

Adhoore pyaas
copyright to owner

श्रेया की चीख निकल रही थी

…आ……आ…..आह..कौशल……….ज़ोर से और तेज़…..आह…………………..आह………

श्रेया की चूत से पानी गिरने लगा और कौशल का लंड भी झ़ड़ने लगा था लेकिन कौशल जान चूका था कि अगर वो थककर हार गया तो श्रेया को लगेगा कि वो किसी काम का नहीं है और अगर चुदाई अच्छी हुई तो ये मौका बार-बार आएगा । कौशल ने अचनाक अपने मन को मज़बूत किया और चोदना जारी रखा । श्रेया आह…..आह…..की आवाज़ के साथ उछल रही थी । उसने अपने चूचों को खूद ही चूसना शुरु कर दिया । बहुत दिनों के बाद हो रही चूदाई की वजह से वो बहुत ज्यादा प्यासी थी इसलिए चाहती थी कि चुदाई ऐसी हो कि उसका दर्द कुछ दिनों तक बना रहे । श्रेया बिस्तर पर लेट गई और उसने कौशल को कहा कि मेरे ऊपर आकर मुझे चोदो और जब झड़ने ले तो मेरे मुंह पर झाड़ देना । Adhoore pyaas

कौशल ने वैसा ही किया और अब कौशल को भी लेटे-लेटे चोदने में मज़ा आ रहा था,

थोड़ी ही देर में कौशल का झड़ने लगा तो उसने श्रेया के मुंह पर झाड़ दिया और श्रेया ने उसके बाद एक बार फिर उसका लंड पूरी तबीयत के साथ चूसा और तब कहीं जाकर श्रेया के अंदर की आग कुछ देर के लिए शांत हुई लेकिन ये हवस अभी और बाकि है । Adhoore pyaas

Also read : Devar bhabhi ki antarvasna