अधूरी प्यास Part 4 (sex stories)

हर नई सुबह श्रेया के लिए हवस की नई रात लेकर आ रही थी । इंस्टाग्राम से चुन-चुनकर श्रेया ने एक से बढ़कर एक प्लेबॉय ढूँढ लिए थे । विजय से चुदने के बाद अब श्रेया की नज़र अमित पर थी । अमित कोई प्लेबॉय नहीं था बल्कि एक सीधा-साधा लड़का था । अमित एक ऐसा लड़का था जो प्यार ढूँढ रहा था और वह इसी इंतज़ार में था कि कोई लड़की उसकी जिंदगी में आए और कुछ वक्त के रिलेशन के बाद वह सेटल हो जाए । अमित श्रेया के ऑफिस मे कंटेंट एडिटर की पोस्ट पर था, सैलरी ठीक-ठाक थी और दिखने में भी बुरा नहीं था ।

शनिवार का दिन था, ऑफिस में काम ज्यादा नहीं था और बॉस भी काम खत्म करके जा चुके थे । ऑफिस स्टाफ ने सोचा कि क्यों न टाइम पास किया जाए । ऑफिस के पास ही एक बार था, तो सब वहाँ चले गए । बार पहुंचकर सबने अपनी-अपनी पसंद की शराब ऑर्डर की और मौज-मस्ती में लग गए । शराब पीने के दौरान श्रेया अचानक अमित को देखने लगी ।

पहले तो अमित को यह नॉर्मल लगा पर जब श्रेया ने बार-बार उसे देखना शुरु किया तो अमित ने ये बात नोटिस की लेकिन ध्यान फिर भी नहीं दिया । कुछ देर बाद सब नशे में थे और अब बारी थी नाच-गाने की । सब डाँस फ्लोर पर आ गए और नाचने लगे ।

अधूरी प्यास Part 4 (sex stories)
copyright given to owner

नाचते-नाचते सब एक दूसरे की बाहों में बाहे डाले शाम का मज़ा ले रहे थे और अदला बदली कर रहे थे । इसी अदला-बदली में अमित श्रेया के पीछे आ गया और उसके कंधों को दबाकर नाचने लगा । अमित तो अपनी मस्ती में था लेकिन उसका श्रेया के कंधों को दबाना श्रेया को उत्तेजित कर गया । श्रेया को ऐसा महसूस हुआ जैसे वह उसके चूचे मसल रहा हो ।

श्रेया ने अमित के हाथों को पकड़ा और अपने चूचों में लगा दिया । अमित को पहले तो अजीब लगा लेकिन खुद को कब तक रोकता, नशे में उसकी हवस जाग उठी और वह चूचों को मसलने लगा । सब नशे में धूत थे लेकिन श्रेया हवस की आग में तप रही थी । अब श्रेया से रहा नहीं गया, उसने अमित को बाथरूम की तरफ आने का इशारा किया । sex stories

अमित का लंड भी गरम हो चुका था लेकिन वह नहीं जानता था कि उसके साथ क्या होने वाला है । बाथरूम में आते ही श्रेया ने अमित को अपनी ओर खींचा है और उसे चुमने लगी । चुमते-चुमते उसने अपनी चुत पर अमित का हाथ लगा दिया ताकि अमित की उत्तेजना में कमी न रह जाए । वह जानती थी कि किसी पुरुष को चरम उत्तेजना कैसे मिलती है और उन्हें अपनी लत कैसे लगाई जाती है । अमित ने श्रेया से पूछा – तुम क्या चाहती हो ? sex stories

Also read : सरकारी नौकरी और चुदाई (Bhabhi sex stories)

श्रेया ने हवस से भरी हुई आवाज़ में कहा – मुझे ब्लोजॉब देनी है अभी तुम्हें । मुझे तुम्हारा लौड़ा मुंह में लेना है और अभी लेना है । अमित कहने लगा – श्रेया मुझे चोदना है तुम्हें, चोदने दो ना । लेकिन श्रेया यह जानती है कि पुरूषों को कैसे अपने बस में लेना है ।

अधूरी प्यास Part 4 (sex stories)
copyright given to owner

अमित को हवस में पागल करके श्रेया उस वक्त अमित से कुछ भी करवा सकती थी । अमित ने अपनी जीन्स खोली और लंड बाहर निकाला । श्रेया ने एक हाथ अपनी चुत में दिया हुआ था और ऊपर से लंड चूस रही थी । अमित का झड़ चुका था क्योंकि उसके लिए यह पहली बार था । अमित ने पॉर्न फिल्में देखी थी और उसने देखा था कि अखिर में हमेशा लंड लड़की के मुंह में झाड़ना होता है लेकिन वह कुछ कहता इससे पहले ही श्रेया ने कह दिया – अमित मेरे मुंह पर झाड़ दो और ऐसा झाड़ना कि मज़ा आ जाए । sex stories

अमित ने मुठ मारना शुरु किया और कुछ ही सेकेंड बार श्रेया के मुंह में झाड़ दिया । श्रेया खुद को लेकर संतुष्ट थी लेकिन अमित बिना चुत मारे शांत नहीं हो रहा था । श्रेया ने अपना मुंह साफ किया, ब्रा और शर्ट पहनी और वह जब पीछे मुड़ी तो देखा कि अमित अब भी वैसे ही था । श्रेया ने कहा – क्या हुआ, कपड़े पहनो और बाहर आओ अमित । sex stories

Also read : hindi sex stories अधूरी प्यास(Adhooree pyaas) Part 3

अमित ने श्रेया से कुछ नहीं कहा – श्रेया को पकड़ा और उसे वॉशबेसन में बैठा दिया । श्रेया बार-बार बोल रही थी, छोड़ों जाने दो, बाद में करेंगे, लेकिन अमित एक नहीं सुन रहा था । उसने श्रेया की पैंट खोलनी शुरु कर दी और उसकी चुत में हाथ देने लगा । श्रेया समय गई थी कि अमित उसकी चुत मारे बिना अब शांत नहीं होगा ।

लेकिन वो क्या करे, उसे अब ठरक नहीं थी परंतु वह जानती थी कि अगर वह चिल्लाई या उसने अमित को कुछ भी कहा तो इल्ज़ाम उसी पर आएगा क्योंकि पूरा ऑफिस उसे अच्छी तरह जानता था । यह सब सोचकर श्रेया ने तय किया कि वह अमित को किसी तरह शांत करेगी । sex stories

अधूरी प्यास Part 4 (sex stories)
copyright given to owner

श्रेया ने ब्रा खोली और अमित को चूचे चुसवाना शुरु कर दिया । अमित श्रेया के निप्पलों को न सिर्फ चूस रहा था बल्कि काट भी रहा था ताकि श्रेया को दर्द हो । अमित श्रेया को यहाँ वहां चूमने लगा और उसकी बदन को आम की तरह चूसने लगा । इतने में अमित ने श्रेया को बाथरुम के शेल्फ पर बैठा दिया और उसकी चुत को चाटने लगा । न चाहते हुए भी श्रेया अब दिवानी होने लगी थी, ऐसा उसके साथ पहली बार हो रहा था कि उसका करने का मन नहीं लेकिन सामने वाला इतना उत्तेजित है कि उसने उसे भी उत्तेजना से भर दिया है ।

अमित अब चुत को चूसने लगा था और वह जितनी ताकत से चूत चूसता, श्रेया उतनी ही दीवानी हो जाती । एक वक्त ऐसा आया जब श्रेया के मुंह से चीख निकली और उसने अमित के बाल खींचना शुरु कर दिया लेकिन अमित रूका नहीं । श्रेया अब चाहती थी कि अमित उसकी चुत को खा जाए और उसे ऐसे झटके दे कि वह उछल पडे । श्रेया ने अमित को कहा – चुत में लंड डालो और फिर मुझे उठा लो और फिर हवा में ही उछालते हुए झटके दो, जल्दी दो…प्लीज…अब नहीं रहा जाता अमित ….

अधूरी प्यास Part 4 (sex stories)
copyright given to owner

अमित ने भी न आव-देखा न ताव, लंड खुसाकर श्रेया को गोद में उठा लिया और झटकों के साथ उछालने लगा । श्रेया हवा में झटके खा रही थी और अमित का झड़ना बंद हो चुका था क्योंकि वह मुठ मार चुका था और इसीलिए वह चोदने में अपनी पूरी ताकत लगा रहा था । चोदते-चोदते अमित बार-बार श्रेया…..श्रेया बोल रहा था और श्रेया की तो आवाज़ ही बंद हो गई थी … बस आयययय……आउच………आ…..अमित बस यही बार-बार ।

अमित का एक बार और झड़ गया लेकिन इस बार जैसे ही झड़ा उसने श्रेया को चोदना छोड़ दिया और उसके मुंह में लंड दे दिया । अमित ने पहले कभी सैक्स नहीं किया और श्रेया ने उसे वो याद दे दी, जिसे अमित हमेशा याद रखेगा ।

बाकि अगले एपिसोड में —–