Allergy Ka Ayurvedic Ilaj

0
Allergy Ka Ayurvedic Ilaj
Allergy Ka Ayurvedic Ilaj

Allergy Ka Ayurvedic Ilaj एलर्जी का आयुर्वेदिक इलाज दोस्तों, एलर्जी वो रोग है जिसकी कोई सीमा नहीं है और कोई एक कारण नहीं है । ये किसी भी उम्र के इंसान को किसी भी चीज़ से हो सकती है और जब इंसान को बार-बार एक ही वस्तु से शारीरिक समस्या होने लगती है तब उसे पता चलता है कि उसे इस चीज़ से एलर्जी है । आज का ये लेख बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि इस लेख में एलर्जी से संबंधित हर तरह के आयुर्वेदिक उपचार और नुस्खे को बताया गया है जिसे अपनाकर आप राहत पा सकते हैं । हमनें इस लेख में एलर्जी को मुख्य कारण, लक्षण और उसके अलग-अलग आयुर्वेदिक उपचार और तरीकों के बारे में बताया है जिन्हें जानकर आपको कईं तरीके पता चलेंगे ।

Allergy Ka Ayurvedic Ilaj एलर्जी के लक्षण 

  • कान, नाक में लगातार खुजली होना
  • नाक से पानी बहना
  • नाक बंद हो जाना या फिर छीकें आना
  • खांसी और गले में खुजली होना
  • आँखों में तेज़ खुजली होना
  • आँखों में सूजन, जलन, पानी निकलना
  • सिरदर्द 
  • उल्टी आना 
  • शरीर में जगह-जगह खुजली और दाग

दोस्तों दरअसल एलर्जी के और भी बहुत से लक्षण हैं लेकिन ये लक्षण सामान्य तौर पर देखें जाते हैं और एलर्जी होने के कारण तो बहुत ही सामान्य और चकित करने वाले हैं ।  

एलर्जी के कारण क्या हैं ?

  • सूरज की किरणों या धूप से एलर्जी
  • ठंडे या गर्म पानी से एलर्जी
  • पत्तों से एलर्जी
  • फूलों से एलर्जी
  • धूल और मिट्टी से एलर्जी
  • मीठे से एलर्जी
  • खट्टे से एलर्जी 
  • दूध से एलर्जी
  • दवाइयों से एलर्जी

इसके अलावा और भी बहुत से अलग-अलग कारण हैं लेकिन एलर्जी का संपूर्ण इलाज केवल आयुर्वेदिक उपचार में है । बाकी चिकित्सा विधियाँ कारगर साबित नहीं हुई हैं बल्कि दूसरी और समस्याएँ उत्पन्न हो जाती हैं । आइए कुछ आयुर्वेदिक घरेलू नुस्खे और उपचार के बारे में बताएँ ताकि आपको राहत मिल सके ।

इलाज और उपचार 

  • याद रखिए 100 ग्राम बादाम में 20 ग्राम काली मिर्च और और 20 ग्राम खांड मिलाकर खाने से आपको छींक, नजला जैसी समस्या से निजात मिलेगा ।
  • अगर एलर्जी नाक और श्वास नली संबंधी है तो सरसों का तेल, बादाम रोगन या फिर अणु तेल की कुछ बूंदें नाक में डालें, इससे तुरंत आराम मिलेगा ।
  • 5 काली मिर्च के साथ 5 बादाम चबाकर खाएँ, तुरंत आराम मिलेगा ।

एलर्जी की आयुर्वेदिक दवा क्या है ?

दोस्तों, आयुर्वेद चिकित्सा में हरिद्रा खंड का नियमित सेवन त्वचा संबधी हर तरह की एलर्जी को दूर करेगा । इसके अलावा 1 ग्राम गिलोय पाउडर और 1 ग्राम सितोपलादि चूर्ण को शहद के साथ चाटने से सांस, गला और नाक संबंधी सभी तरह की एलर्जी जड़ से खत्म हो जाती है ।

इसके अलावा कुछ और उपचार भी हैं जो त्वचा की एलर्जी होने पर बहुत कारगर हैं – 

  • सेब का सिरका यानी एप्पल साइडर विनेगर
  • एलोवेरा जैल  
  • नारियल तेल
  • तुलसी 
  • नीम 

त्वचा में एलर्जी में क्या नहीं खाना चाहिए ? 

  • उड़द दाल खाने के बाद दूध नहीं पीना है
  • मूली 
  • हरी सब्जी के साथ अंडा, मीट, दही या मछली का सेवन नहीं करना है ।
  • मीठे से परहेज़ करना है 

क्या खाना चाहिए  ?

  • हरी सब्ज़ियाँ
  • परवल का साग
  • टमाटर 
  • नींबू 

त्वचा से संबंधित एलर्जी हो तो कौनसे साबुन का इस्तेमाल करना चाहिए ?

अगर त्वचा संबंधी एलर्जी है तो हमेशा एंटीबैक्टीरियल साबुन का ही इस्तेमाल करें । इससे किसी भी तरह का दाद, खुजली और दाने नहीं होते । जिन लोगों कि त्वचा ऑयली है, उनके लिए एंटीबैक्टीरियल साबुन उत्तम है लेकिन जिनकी त्वचा ड्राई है वो इसका इस्तेमाल न करें ।

त्वचा या शरीर के भीतर की किसी भी तरह की एलर्जी से राहत के लिए कुछ सामान्य आयुर्वेदिक घरेलू नुस्खे हैं जिनका उपयोग तुरंत राहत देता है ।

  • नीम की पत्तियों को 6 से 8 घंटे के लिए पानी में भिगोकर रखें 
  • त्वचा पर हल्का गर्म नारियल तेल लगाएँ और रातभर लगे रहने दें 
  • जब भी त्वचा पर एलर्जी महसूस हो तो ठंडे पानी से नहा लीजिए, राहत मिलेगी ।

एलर्जी से बचने के लिए क्या खाएँ ?

  • अपने हर भोजन में अदरक शामिल करें । सुबह की चाय से रात के भोजन तक अदरक का सेवन करें ।
  • रोज़ रात को सोने से पहले दूध में हल्दी डालकर पीएँ ।
  • रोज़ सोने से पहले एलर्जी वाले जगह पर नारियल का तेल लगाएँ ।

दोस्तों, आपको ये जानकारी कैसी लगी, कमेंट में बताएँ ताकि हम और बेहतर विषयों को आपके बीच लेकर आ सकें ।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें