Hair Care Tips In Hindi

2
Hair Care Tips In Hindi
Hair Care Tips In Hindi

Hair Care Tips In Hindi बाल झड़ना (Hair fall) आज एक आम समस्या बन गई है और बाल झड़ने से रोकने के लिए लोग तरह-तरह के तरीके और उपचार का प्रयोग करते हैं । लेकिन आज ये समस्या इतनी विकट हो गई है कि इससे न सिर्फ बड़े बल्कि बच्चे और जवान पीढ़ी भी बहुत परेशान है ।

हमारे आस-पास ऐसे बहुत से लोग हैं जो 25 साल की उम्र में ही अपने बालों को खो देते हैं और बाकि उम्र उन्हें शर्मिंदा होकर जीना पड़ता है । बाल झड़ना न सिर्फ व्यक्ति को शारीरिक रूप से कमज़ोर बाता है बल्कि ये उसे मानसिक रूप से भी चोट देता है ।

Hair Care Tips In Hindi बाल झड़ने के कारण, लक्षण और इलाज ( Hair fall )

ऐसा व्यक्ति जिसके कम उम्र में ही बाल झड़ गए हों वो समाज में एक तरह की हीन भावना का शिकार रहता है और उसे कदम-कदम पर इसका सामना करना पड़ता है । अभी हाल ही में आई दो हिंदी फिचर फिल्म ‘बाला’ और ‘उजड़ा चमन’ इसी विषय को उजागर करने के लिए बनाई गईं हैं ।

इसमें दिखाया गया है कि कम उम्र में ही बाल झड़ने से एक व्यक्ति को कितने तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है । यहाँ तक कि शादी न होने की एक बड़ी वजह बाल झड़ना हो जाता है फिर चाहे आप अच्छा कमाते हों या नहीं ।

महिला और पूरूष दोनों को है ये समस्या :- 

दोस्तों, ऐसा नहीं है कि बाल झड़ने की समस्या सिर्फ पुरूषों को ही परेशान करती है, बाल झड़ने से महिलाएं भी परेशान रहती हैं । एक सर्वे के मुताबिक भारत में हर तीसरी महिला बाल झड़ने की समस्या से परेशान हैं और पूरे विश्व में लगभग 67 प्रतिशत लोग बाल झड़ने की समस्या से ग्रसित हैं । 

क्या है बाल झड़ने के कारण ?

इसके कईं कारण हो सकते हैं – 

1. शरीर में विटामिन की कमी – हमारे शरीर को जब पर्याप्त प्रोटीन और विटामिन नहीं मिलते, तो उसका सीधा असर हमारे बालों पर होता है । पहले बाल सफेद होना शुरू होते हैं और कुछ-कुछ झड़ने लगते हैं लेकिन अगर खानपान पर ध्यान न दिया जाए तो बाल पूरी तरह झड़ना शुरू हो जाते हैं ।

2. अलग-अलग प्रोडक्ट का इस्तेमाल – आजकल बाजार में बालों के लिए अलग-अलग तरह के प्रोडक्ट आ गए हैं, जैसे शैंपू, ऑयल, वैक्स, जैल आदि । लेकिन यहाँ ध्यान देने वाली बात ये है कि क्या इन सबका साइड इफेक्ट है या नहीं । जब सर्वे कराया गया तो लगभग 85 प्रतिशत लोगों ने जवाब हाँ में दिया और कहा कि इन सब प्रोडक्ट की वजह से बालों की सेहत पर खराब प्रभाव पड़ा है । अगर इन्हें एक सीमित तरीके से इस्तेमाल किया जाए तो बालों की नुकसान नहीं होगा ।

3. बार-बार सिर धोना – आजकल पानी को साफ और पीने योग्य बनाए रखने के लिए उसमें तरह-तरह के केमिकल डाले जाते हैं और वही पानी हम घर में वाटर प्यूरीफायर (water purifier) लगाकर पीते हैं लेकिन जब बालों को धोने का समय आता है तो हम सीधे वाटर सप्लाई के पानी का इस्तेमाल करते हैं और वो सभी केमिकल हमारे बालों की जड़ में जाकर उनकी पकड़ को कमजोर बनाते हैं और धीरे-धीरे बाल टूटने लगते हैं । 

4. चिंता या तनाव (Stress) – दोस्तों चिंता करना या तनाव लेने से शरीर की साइकोलॉजी प्रभावित होती है और शरीर के भीतर कैमिकल रिएक्शन होते हैं और ऐसा ही एक रिएक्शन हमारे बालों पर नकारात्मक प्रभाव डालता है जिससे बाल टूटना शुरू हो जाते हैं और कभी-कभी ये तनाव इतना नुकसान कर देता है कि 25 साल या इससे कम उम्र तक सिर से लगभग सभी बाल झड़ जाते हैं और नए बाल आना भी बंद हो जाते हैं । इसलिए चिंता या तनाव बिल्कुल न करें ।

Hair Care Tips In Hindi क्या है बाल झड़ने के लक्षण ?

बाल झड़ने के लक्षण बहुत साधारण हैं और इनकी पहचान करना भी बहुत आसान है । दोस्तों आप कहीं पर भी बैठें हो, चाहे वो ऑफिस हो, घर हो या कोई दूसरी जगह, हमेशा आपको अपने आस-पास अपने टूटे बाल नज़र आएंगे । ये बाल झड़ने का पहला लक्षण होता है । इसके अलावा आप जितनी बार अपने सिर पर हाथ फेरते हैं उतनी ही बार बाल आपके हाथों में या आपके आस-पास गिर जाएंगे । बाल झड़ने के एक और लक्षण ये हैं कि आप जब भी सुबह नहाकर या बिना नहाए अपने बालों पर हाथ फेरें या कंघी करें तो आप पाएंगे कि बालों के बीच आपका सिर नज़र आ रहा है और बीच में खालीपन दिख रहा है ।

इन सब लक्षणों को बिल्कुल भी नज़रअंदाज़ न करें, ये सभी बाल झड़ने के लक्षण हैं और आपको समय रहते इनकी पहचान कर लेनी चाहिए ।

यह भी पढ़े :- Damad ji Palang Tod

क्या है इलाज ?

दोस्तों बालों को झड़ने से रोकने के कईं इलाज हैं । इसमें कईं बार आयुर्वेद भी काम आता है तो कईं बार मालिश भी और कभी-कभी कुछ देसी नुस्खे भी बड़े कारगर साबित होते हैं । 

1. गंजे हो जाइए – अगर आपके बाल बहुत तेज़ी से झड़ रहे हैं तो डॉक्टर आपको सबसे पहले गंजा होने का परामर्श देगा क्योंकि बिना सिर मुंडवाए आपका जड़ से इलाज होना बहुत मुश्किल है, इसलिए फौरन सिर मुंडवा लें ।

2. खान-पान का पूरा ध्यान रखें – अपने खान-पान का पूरी तरह ध्यान रखें । भोजन में प्रोटीन, विटामिन और कैल्शियम भरकर लें । यदि आप दो समय भी भोजन करते हैं तो उसमें दाल, रोटी, अंडा, ब्रैड, दूध, हरी सब्जियाँ ज़रूर लें । यही वो भोजन है जो आपके शरीर और बालों को मज़बूत रखेगा । 

3. आयुर्वेद चिकित्सा – दोस्तों आयुर्वेद में बाल झड़ने का कईं तरीके से इलाज किया जाता है । उसमें मालिश, परहेज़ और देखभाल शामिल है । 

4. हफ्ते में सिर्फ एक बार धोएं सिर – दोस्तों ये बात ध्यान रखें कि आपने रोज़ अपना सिर नहीं धोना है क्योंकि रोज़ सिर धोने से बालों की जड़ें कमज़ोर होने लगती हैं और अगर पानी ज़्यादा प्रदुषित है तो बालों को दूसरे नुकसान भी हो सकते हैं ।

5. बालों में एक दिन आंवला तेल से मालिश – हफ्ते में एक दिन अपने सिर की मालिश ज़रूर करें और ये तेल पूरी तरह आंवला का होना चाहिए । ध्यान रहे किसी भी बाजार के प्रोडक्ट पर विश्वास न करें । आंवला का असली तेल मंगवाएं, सुबह आंवला का जूस पीएँ या आँवला खाएँ ।

दोस्तों, आपको ये जानकारी कैसी लगी, हमें कमेंट में बताएँ ताकि हम और बेहतर जानकारी सामने रख सकें । Hair Care Tips In Hindi

2 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें