Hindi Love Stories

0
Hindi Love Stories
Hindi Love Stories

जीजा-साली की प्यासी ख्वाहिश

Hindi Love Stories प्रिया की बड़ी बहन की शादी पिछले ही महीने हुई लेकिन प्रिया कुछ परेशान सी है, कोई कुछ पूछ रहा है तो बता नहीं रही, प्रिया आखिर बात क्या है । ये सब जब प्रिया की खास सहेली इंदू ने प्रिया से पूछा तो प्रिया ने उसे भी कुछ जवाब नहीं दिया बस कहा – कुछ नहीं, परेशान नहीं हूं, थोड़ी कमज़ोरी सी लगती है बस । प्रिया जानती थी कि जो हो चुका है वो किसी को बताया नहीं जा सकता और इसका जो भी हल है वो उसे खुद ही निकालना पड़ेगा । हालांकि उस परेशानी की वजह प्रिया खुद भी थी और उसकी गलती भी है,

इस सब की वो भी बराबर की ज़िम्मेदार है ।

दरअसल प्रिया पेट से थी और उसके पेट में किसी और का नहीं बल्कि उसी के जीजा राहुल का बच्चा था । अभी बड़ी बहन की शादी हुए महिना ही हुआ था कि प्रिया और राहुल को इसके बारे में पता चला लेकिन अब दोनों इस बात को अंदर ही दबा देना चाहते थे और दोनों की हवस की ये निशानी अब दोनों ही मिटा देना चाहते थे, इससे पहले कि बात और आगे बढ़े । अब दोनों किसी न किसी बहाने से ये सब शहर के बाहर करना चाहते हैं जहाँ से ये खबर फैले नहीं ।

Hindi Love Stories राहुल ने घर पर कहा कि

मैं दो दिन के लिए ऑफिस के काम से बैंगलोर जा रहा हूं और प्रिया ने कहा कि मेरी कॉलेज की सब लड़कियाँ हिमाचल जा रही है घूमने तो मैं भी जा रही हूं । दोनों अपने-अपने घर से ये कहकर निकले और दिल्ली से सीधे आगरा पहुंचे । वहाँ पहले से ही बात करके रखी थी,

पैसे भी पहुंचा दिए थे,

बस अब प्रिया को इन अनचाहे गर्भ से छुटाकारा चाहिए था, हालांकि उसे बुरा तो लग रहा था लेकिन वो जानती थी कि परिवार और समाज उसे जीने नहीं देगा औप उसके साथ उसकी बड़ी बहन की ज़िंदगी भी तबाह हो जाएगी ।

ये सब सोचकर ही वो इसके लिए राज़ी हुई । 

दरअसल इन सबकी शुरूआत पिछले साल हुई जब प्रिया की बड़ी बहन शालू के लिए रिश्ते आने लगे और जब राहुल को पसंद कर लिया गया तो राहुल और शालू काफी मिलने लगे और कभी-कभी शालू प्रिया को लेकर आती थी और प्रिया और राहुल में अच्छी पटती थी । राहुल भी शालू को ऑफिस से कभी घर ले आता तो प्रिया और राहुल भी मिलते ।

Hindi Love Stories फोन नंबर के अलावा फेसबुक और इंस्टाग्राम तक में सब एक दूसरे को जानते थे ।

तभी अचानक शालू और राहुल के बीच किसी बात को लेकर तकरार हो गई और कईं दिनों तक बात नहीं हुई । शालू ने सोचा कि राहुल बात करेंगे लेकिन राहुल उस वक्त तक प्रिया पर पकड़ बना चुका था । वो दोनों बाहर घुमने गए और बातों ही बातों में राहुल ने प्रिया को अपनी बाहों में कस लिया और उसे अपने जिस्म की गरमी का अहसास करवाया ।

पहले तो प्रिया को बहुत अजीब लगा लेकिन राहुल के

जिस्म की तपन और उसकी बातों ने प्रिया पर जादू सा कर दिया था इसलिए प्रिया भी मदहोश सी हो गई और राहुल की बाहों में ही सिमटने लगी । दोनों काफी देर तक एक दूसरे के जिस्म की खुशबू ले रहे थे और एक-दूसरे में खो जाने की सारे हदें पार कर चुके थे । अब दोनों के बीच न तो शर्म थी और न ही रिश्ते का पर्दा, दोनों बस उस पल को जीना चाहते थे और हर हद से गुज़रना चाहते थे ।

वो चाहते थे कि उनके रिश्ते में जो गरमाहट आई है

इससे पहले की वो ठंडी हो, इस आग को भड़का दो और दोनों ने ऐसा ही किया । राहुल कमरा किराए पर लेता और दोनों कमरे में एक दूसरे के अंदर की बेचैनी और आग को ठंडा करने के सारे रास्ते तलाश रहे थे । अब दोनों के बीच हर रोज़ नए तरीके से संबंध बनने लगे थे । प्रिया के जिस्म पर कहां तिल है, राहुल को सब पता था और राहुल ने अपने अंदर क्या-क्या समेटा हुआ है, इसकी भी पूरी खबर प्रिया को थी ।

दोनों एक दूसरे का सहारा भी थे और आदत भी ।

ये दोनों जानते थे कि वो जो कर रहे हैं वो कभी भी रिश्ता नहीं हो सकता लेकिन दोनों जिस्म की ज़रूरत के आगे इतने बेबस हो चुके थे कि जब भी मिलते, एक दूसरे का सारा रस निकाल देते और जब तक मन पूरी तरह भर न जाए एक-दूसरे को छोड़ते नहीं थे । एक दिन तो राहुल ने प्रिया को बिस्तर पर लेटने ही नहीं दिया, खड़े-खड़े ही रस ले लिया और झटके भी दे दिए ।

Hindi Love Stories मगर प्रिया भी कहाँ रूकने वाली थी,

वो भी किसी से कम नहीं थी, प्रिया राहुल को हर तरह से आकर्षित कर रही थी और उसका जादू राहुल पर चल गया था । राहुल प्रिया के प्यार में मदहोश हो चुका था । प्रिया राहुल के ज़रिए अपनी हर अधूरी ख्वाहिश पूरा कर रही थी । बिस्तर धीरे-धीरे गरम हो रहा था और गरम हो रहे थे अरमान । प्रिया और राहुल दोनों ही एक-दूसरे के प्यार में गिरफ्तार हो चुके थे और दोनों इस पल का पूरा मज़ा ले रहे थे । कुछ समय बात उन दोनों की सगाई हो गई और उसके बाद तो दोनों जैसे एक-दूसरे की आग में लिपट ही गए

सोमवार से शुक्रवार के बीच में प्रिया और शनिवार और रविवार को शालू ।

दोनों बहनों का एक साथ रस राहुल जैसा तेज़ लड़का ही ले सकता था और शालू भी इस बात से पूरी तरह अंजान थी कि उसके पीठ पीछे प्रिया ने राहुल को पहले ही हर तरफ से इस्तेमाल कर लिया था और राहुल भी और सारी सीमाएं पार कर दी ।

राहुल शालू के साथ वो सब करता

जो वो पहले की प्रिया के साथ कर चुका है लेकिन शालू प्रिया जितनी हसीन और तेज़ नहीं थी इसलिए राहुल उसे आराम से ही संभालकर रखता था । लेकिन प्रिया के साथ वो अपनी सारी ख्वाहिशें पूरी कर रहा था और प्रिया भी अपनी सारी ख्वाहिशें राहुल के साथ पूरी कर रही थी । घर की मुर्गी दाल बराबर ।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें