hindi sex stories अधूरी प्यास(Adhooree pyaas) Part 3

विवेक से बेहिसाब चुदने के बाद भी श्रेया की प्यास नहीं बुझ रही थी । वो चाहती थी कि उसकी गरमा-गरम चुत को कोई फाड़ दे, कोई तो ऐसा हो जो उसकी आग बुझा सके । विवेक ने श्रेया को ऑफिस, घर, गेस्ट हाउस, घर की छत और गाड़ी के अंदर दिन-रात चोदा । विवेक को अब श्रेया से बोरियत होने लगी थी, लेकिन श्रेया को विवेक के लंड की आदत लग चुकी थी क्योंकि एक तो विवेक शरीर से बहुत ताकतवर था और दूसरा यह है कि वह चोदने में माहिर था । विवेक यह जानता था कि लड़की की आग को कैसे बुझाया जाता है, लेकिन श्रेया अब भी विवेक से बोर नहीं हुई थी ।

विवेक अब श्रेया को इग्नोर करने लगा था और धीरे-धीरे उसने श्रेया को पूरी तरह इग्नोर कर दिया । अब श्रेया फिर से अकेली हो गयी और अब वह अपनी इस प्यास के लिए एक नया शिकार ढूंढ रही थी लेकिन अब उसके चुंगल में कोई फंस नहीं रहा था । एक दिन श्रेया ऑफिस से घर आयी और नहाने चली गयी । बाथरुम में श्रेया अपनी चुत सहलाने लगी और वह विवेक को याद करके उसके नाम की मुठ्ठी मारने लगी । श्रेया ने उस दिन बाथरुम के अंदर ही 3 बार मुठ्ठी मार ली और अब वह बेचैन थी क्योंकि वह यह जानती थी कि विवेक उसे अब नहीं मिलेगा । श्रेया के पास दो ही तरीके थे – या तो वह पॉर्न देखे या फिर कॉल पर हवस का खेल खेले, लेकिन फिलहाल उसके पास कोई लड़का नहीं था ।

x hindi sex stories
copyright to provider

लेकिन श्रेया को किसी भी- किमत पर अपनी आग बुझानी थी । उसकी चुत को लंड की प्यास थी, वह आग की भट्टी की तरह तप रही थी लेकिन उस आग को बुझाने के लिए जो लंड चाहिए, वह श्रेया को नहीं मिल रहा था । श्रेया समझ चुकी थी कि उसे अगर प्यास बुझानी है तो उसे हवस का ये नंगा नाच सरेआम करना होगा । उसे इंस्टाग्राम खोला और चुन-चुन कर ऐसे लड़के चुने जिन्हें वो जानती भी थी और जो अक्सर जिम में जाकर वरजिश करके अपना शरीर इंस्टाग्राम पर दिखाते थे ।

Also read : HINDI SEX STORY अधूरी प्यास(Adhooree pyaas)

Also read : x hindi sex stories अधूरी प्यास(Adhooree pyaas) part 2

लिस्ट बनाने के बाद श्रेया अपनी अधनंगी तस्वीरें उन लड़कों को भेजने लगी और कुछ ही देर में उसके अकाउंट में मैसेज की बाढ़ आ गई । लड़कों ने उससे चुचे और चुत दिखाने की बात कही । श्रेया जानती थी कि यह होगा इसलिए उसने पहले से ही अपनी तस्वीरें रख रखी थी । अब श्रेया को जो लड़का सबसे ज्यादा पसंद था वह उससे चैट करने लगी, कुछ ही देर में चैट हवस से भर गई और अब वीडियों चैट होने लगी । श्रेया ने लंड दिखाने को कहा, लड़के जैसे ही फोटो भेजते, श्रेया चुत में उंगली करना शुरु हो जाती और कुछ दिन वह इसी से चरमसुख का आनंद लेती रही ।

अब श्रेया को लंड चुसना था और एक ऐसा लौड़ा चाहिए था जो उसकी चुत फाड़ दे । श्रेया ने विजय सागंवान नाम के एक लड़के को मिलने के लिए बुलाया । यह वही लड़का था जिससे श्रेया फोन सैक्स पर कईं बार चुद चुकी थी । विजय ने ओयो रुप बुक किया हुआ था, वह जानता था कि आज श्रेया बिना चुदे नहीं मानेगी । पहले विजय और श्रेया ने मिलकर शराब पी और उसके बाद विजय ने सीधे श्रेया के गले में चुम लिया । श्रेया तो इसी मौके की ताक में थी उसने न आव देखा न ताव सीधे पैंट के अंदर हाथ डालकर विजय का लंड पकड़ लिया और हिलाने लगी । x hindi sex stories

ऐसी हवस देखकर विजय से भी नहीं रहा गया उसने श्रेया का टॉप फाड़ दिया और ब्रा खीचने लगा । हवस दोनों के बीच बढ़ती जा रही थी । विजय बार-बार यही कह रहा था कि आज तेरी चुत ऐसी फाडूंगा कि तू मुझे कभी भुल नहीं पाएगी । विजय श्रेया को चुमें जा रहा था उसके चुचों को चुस-चुस के पी रहा था । विजय ने श्रेया के चुचे इतने चूसे कि वह लाल पड़ गए । विजय चुचे चूसते हुए ब्रा खोल रहा है लेकिन ब्रा का हुक अटक गया है । विजय ने श्रेया की ब्रा बीच में से फाड़ दी और उसकी चुत में उंगली करने लगा ।

x hindi sex stories
copyright to provider

श्रेया भी विजय का लंड बराबर हिला रही थी । अब विजय न चाहकर भी खुद को रोक नहीं पा रहा था उसने श्रेया की जीन्स उतारकार उसकी कच्छी को बाहर से चाटने लगा । श्रेया ने पहले कभी इनते उतावलेपन से सैक्स महसूस नहीं किया था । श्रेया की चुत गीली होना शुरु हो गई थी, वह चाहती थी कि विजय उसे चुस ले । उसने विजय को चुत चाटने के लिए इशारा किया । विजय ने जीब ली और चुत पर चिपका दी और वह चुसने लगा । श्रेया की चुत से बेतहाशा पानी बहने लगा और उसकी हवस अपने चरम पर थी । उसने विजय के बाल पकड़ लिए और विजय का  नाम ज़ोरों से लेने लगी – और जोर से चाटों विजय और ज़ोर से…आ……….आ…….आह……..

इसके बाद विजय ने न आव देखा न ताव अपना लंड श्रेया की चुत में डाल दिया और तेजी से चोदने लगा । श्रेया की तो मानो चुत की खुजली मिट रही थी । श्रेया की चुत ने पानी छोड़ना शुरु कर दिया और धीरे-धीरे पानी बहुत बहने लगा । चुत पूरी तरह गीली हो चुकी थी इसलिए चोदने में भी मज़ा आ रहा था । अब विजय ने श्रेया को उलटा किया और डॉगी स्टाइल में चोदने लगा । x hindi sex stories

x hindi sex stories
copyright to provider

श्रेया को दर्द तो हो रहा था लेकिन उस दर्द के लिए उसने बहुत इंतजार किया था । श्रेया जितनी तेज चिल्ला रही थी वियय को उतना मज़ा आ रहा था । श्रेया बार-बार विजय का नाम ले रही थी इसलिए विजय ने श्रेया के बाल पकड़े और उसकी आंखों में देखकर उसे चोदने लगा । दोनों के बीच जैसे चोदने और चुदने का कंपीटिशन था । दोनों थक नहीं रहे थे, दोनों एक दूसरे को गिराना चाहते थे लेकिन दोनों ही बहुत रफ सैक्स कर रहे थे । विजय ने श्रेया को जोर से झटके देने शुरु किए और श्रेया की चुत ने पानी बहाना शुरु कर दिया ।

कुछ मिनटों तक चली इस कश्मकश के बाद जब दोनों थक गए और पसीना-पसीना हो गए तो विजय ने अपना लंड श्रेया के मुंह में दिया और अंदर बाहर करने लगा । श्रेया भी लंड को ऐसे चुस रही थी मानों बर्फ का गोल चुस रही हो । अब विजय ने लंड चटवाने के बाद श्रेया को 3 हजार रुपए दिए और वह वहां से चला गया । hindi sex stories

श्रेया ने यह सब पैसे के लिए नहीं अपनी हवस मिटाने के लिए किया था । फिर भी विजय ने उसे पैसे दिए क्योंकि उसका असूल था कि वह श्रेया को उसकी औकात दिखाना चाहता था ।

अब क्या होगा आगे, जानेंगे अगले एपिसोड मे ।