Top 5 tourist place in Uttarakhand

2
Top 5 tourist place in Uttrakhand
Top 5 tourist place in Uttrakhand

Top 5 tourist place in Uttarakhand ( उत्तराखंड के टॉप 5 टूरिस्ट प्लेस )दोस्तों, पिछले 3 सालों से कोविड -19 की वजह से टूरिज्म पर बुरा असर पड़ा और लोगों ने भी घूमना फिरना कम कर दिया लेकिन इससे एक फायदा ये भी हुआ कि भारत के लोग ये जान पाए कि भारत में ही ऐसी सुंदर जगह हैं जो किसी भी मामले में विदेश से कम नहीं । भारतीय लोग अक्सर इंडोनेशिया में बाली, दुबई, ऑस्ट्रेलिया, मलेशिया, कनाडा और थाईलेंड जाते हैं फिर वो चाहे हनीमून हो या परिवार के साथ छुट्टियां ।

लेकिन कोरोना की वजह से लोग अब बाहर जाने से कतरा रहे हैं वहीं बाहरी देशों का प्रोटोकॉल भी आसन नहीं है ।

लेकिन लोगों को यह जानने की ज़रूरत है कि भारत के उत्तराखंड राज्य में ही कईं ऐसी जगह हैं जो इन सब जगहों से किसी भी मामले में कम नहीं है और बजट में भी है क्योंकि अपने ही देश में है । विदेश जाने में आपको जहाँ 1 से 2 लाख खर्च करने होंगे वहीं भारत में ये 50 हजार तक हो जाएगा और कहीं तो उससे भी कम । मतलब जो पूरी तरह आपके बजट में है ।

Top 5 tourist place in Uttarakhand तो चलिए जानते हैं उत्तराखंड की ऐसी 5 जगहों के बारे में –

Top 5 tourist place in Uttarakhand :-

1. चोपता

दोस्तों, चोपता को ‘मिनी स्विट्जरलैंड’ कहा जाता है क्योंकि ये लगभग 2 हजार 608 मीटर की ऊंचाई पर बसा हुआ है और अक्सर बर्फ से ढका रहता है । बड़े-बड़े हरी घास के मैदान और बर्फ से ढकी हुई चोटिंया यहाँ की खूबसूरती है । इसकी सबसे खास बात ये है कि इसके बाईं तरफ केदारनाथ मंदीर, दाईं तरफ रूद्रनाथ और ऊपर तुंगनाथ मंदीर मौजूद है जो चोपता को एक भक्ति धाम भी बनाते हैं । इतना ही नहीं यहाँ की चोटियों में सुंदर और अलग-अलग पक्षी और जानवर रहते हैं । कहा जाता है कि यहाँ पक्षियों की 240 से अधिक प्रजातियाँ रहती हैं । अगर आप यहाँ आते हैं तो तुंगनाथ ट्रैक, मक्कुमथ, मंडल गांव यहाँ की खूबसूरती में चार चांद लगाते हैं ।

कब जाना चाहिए ?

चोपता घूमने का सबसे बढ़िया समय नवंबर से मई के बीच का महिना है, आप हनीमून और छुट्टियां, दोनों बिता सकते हैं ।

कितना खर्च होगा ?

दोस्तों, यहाँ आप सिर्फ ट्रेन से आ सकते हैं और अगर आप 4 लोगों के परिवार के साथ हफ्तेभर के लिए भी यहाँ आते हैं तो आपकी टिकट से लेकर रहना, खाना सब 10 से 15 हजार के अंदर हो जाएगा । 

2. रानीखेत

रानीखेत वो जगह है जहाँ अक्सर फिल्म की शूटिंग होती है । दरअसल रानीखेत एक छोटा सा हिल स्टेशन है जो हर तरफ से सुंदर पहाड़ों और वादियों से घिरा हुआ है । अंग्रेजों को ये जगह बहुत पसंद थी और वो यहाँ छुट्टियाँ मनाने आते थे इसलिए यहां अंग्रेजों की बनाई इमारतें और जगहें मिलेंगी जो बहुत सुंदर हैं । रानीखेत रेलवे स्टेशन अपने आप में बहुत सुंदर है और हॉलिडे डेस्टिनेशन के लिए परफेक्ट है । रानीखेत में भी बहुत खूबसूरत मंदिर हैं जो यहाँ आने वाले हर यात्री का मन मोह लेते हैं । इसके अलावा आप यहाँ ऑफ रोड ट्रैकिंग मार्ग का आनंद ले सकते हैं ।

कब जाना चाहिए ?

सबसे बढ़िया समय सितंबर से नवंबर है, इस महीने यहाँ कईं तरह के फूल भी खिलते हैं जो यहां की खास पहचान हैं ।

कितना खर्च होगा ?

दोस्तों रानीखेत आने, रहने और खाने का 4 लोगों का खर्चा 10 हजार में हो जाएगा ।

3. ऑली

ऑली उत्तराखंड का सबसे खूबसूरत हिल स्टेशन है जो चारों तरफ से वादियों से घिरा हुआ है । अक्सर लोग यहाँ हनीमून मनाने आते हैं क्योंकि ये बहुत ठंडा रहता है और पूरी तरह बर्फ से घिरा रहता है । ऑली में स्कीइंग करने का अपना ही मज़ा है जो यहाँ का मुख्य आकर्षण रहता है । ऑली पूरी तरह ओक के पेड़ों से घिरा हुआ है और खूबसूरत छत्रकुंड झील यहाँ कि सुंदरता में चार चांद लगाती है । ऑली हमेशा से यात्रियों के लिए स्कीइंग और स्नोबॉर्डिंग करने के लिए खास पहचान रखता है ।

कब जाना चाहिए ?

आप यहाँ पूरे साल में कभी भी आ सकते हैं, ये आपको बर्फ से ढका मिलेगा लेकिन हाँ अगर आप बर्फ के शौकिन हैं तो दिसंबर से जनवरी सबसे बढ़िया समय है ।

कितना खर्च होगा ?

दोस्तों ऑली में 4 दिन हनीमून, खाना, रहना, स्कीइंग और दूसरी एक्टिविटी करने का पूरा खर्च कम से कम 25 से 30 हजार आएगा । ऑली विदेशी पर्यटकों और हनीमून कपल्स से भरा रहता है और यही वजह है कि यहाँ जेब पर खर्च थोड़ा ज़्यादा है ।

यह भी पढ़े :- Hair Care Tips In Hindi

4. चमोली

पूरे उत्तराखंड में चमोली को ‘देवताओं का निवास’ माना जाता है और यही वजह है कि चमोली घूमने न सिर्फ भारत के लोग बल्कि विदेशों से भी कईं लोग हर साल आते हैं । चमोली उत्तराखंड का सबसे बड़ जिला है इसलिए यहाँ देखने को भी बहुत कुछ है । यहाँ की फूलों की घाटी देश-विदेश में प्रसिद्ध है जिसे ‘वैली ऑफ फ्लावर’ भी कहा जाता है और ये इतनी खूबसूरत है कि हर कोई इसे देखने के लिए कोई भी कीमत चुकाने को तैयार हो जाता है । इसके अलावा चमोली में वादियों का नज़ारा लेने के लिए केबल कार का आनंद ले सकते हैं जो आपको न सिर्फ सुंदर वादियों और नज़ारे दिखाएगा बल्कि आपको नया अनुभव देगा ।

कब जाना चाहिए ?

चमोली घूमने का सबसे बढ़िया समय अक्टूबर से मार्च के बीच का है और इसी समय ‘फ्लावर ऑफ वैली’ के दर्शन होते हैं ।

कितना खर्च होगा ?

दोस्तों, चमोली में अगर आप 4 दिन भी रूकते हैं और ऊपर बताई जगहों और एडवेंचर का मज़ा लेते हैं तो आपको 15 से 20 हजार रुपए खर्च करने होंगे ।

5. चकराता

अगर आप चारों तरफ बर्फ से घिरी वादियाँ देखना चाहते हैं तो ऑली के अलावा चकराता भी बहुत बढ़िया विकल्प है लेकिन जो आपको चकराता में मिलेगा वो ऑली में नहीं मिल सकता क्योंकि चकराता में आपको यमुना के अलावा दूसरी नदियों, झरनों का जो सुंदर दृश्य दिखेगा वो कहीं और नज़र नहीं आ पाएगा क्योंकि चकराता समुद्र से लगभग 7 हजार मीटर की ऊंचाई पर मौजूद है । चकराता आने वाले यात्री यहाँ स्कीइंग प्रतियोगिता में भाग लेने विदेशों से भी आते हैं । इसके अलावा यहाँ इतने सुंदर चंगल, पक्षी और जानवर हैं कि देश-विदेशों के फोटोग्राफर इनकी तस्वीरों के लिए खासतौर पर आते हैं । हनीमून कपल्स के लिए चकराता हमेशा से ड्रीम डेस्टीनेशन रहा है ।

कब जाना चाहिए ?

दोस्तों, चकराता आने के दो समय हैं, या तो आप अप्रैल से जून के बीच आएं या फिर सितंबर से नवंबर के बीच ।

कितना खर्च होगा ?

चकराता एक हफ्ते तक आने,रहने, खाने और यहाँ एडवेंचर करने का खर्च लगभग 20 से 25 हजार के बीच होगा । 
तो आप भी अपनी ज़िंदगी से समय निकालिए और आ जाइए उत्तराखंड की खूबसूरत वादियों में जो देगा आपको कभी न भूला पाने वाला अनुभव ।

आपको ये लेख कैसा लगा, कमेंट करके ज़रूर बताएं ।

2 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें