Yaun Samasya Ka Ayurvedic Ilaaj

1
Yaun Samasya Ka Ayurvedic Ilaaj
Yaun Samasya Ka Ayurvedic Ilaaj

Yaun Samasya Ka Ayurvedic Ilaaj यौन समस्या का आयुर्वेदिक इलाज दोस्तों, शादी से पहले हो या फिर शादी के बाद, आज भारत ही नहीं, पूरी दुनिया में यौन समस्या एक आम समस्या बन गई है । शुक्राणुओं के कम बनने या फिर न बनने के बहुत से मामले पिछले 10 सालों में सामने आए हैं । एक रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि पुरूषों और महिलाओं में यौन समस्याएं पिछले 10 सालों में लगभग 20 प्रतिशत बढ़ी है और इसके कईं कारण हैं लेकिन इलाज क्या है और वो भी पक्का इलाज

Yaun Samasya Ka Ayurvedic Ilaaj तो इसका एक ही जवाब है – आयुर्वेद ।

दोस्तों, आज इस लेख में हम आपको कुछ आयुर्वेदिक दवाओं, औषिधियों और उनके सेवन के बारे में बताएंगे जिनके सेवन से आप अपनी यौन क्षमता बढ़ा सकते हैं और अपने अंदर आत्मविश्वास और ऊर्जा पैदा कर सकते हैं ।

क्या है यौन समस्या का कारण ?

  • ज़्यादा तनाव और टेंशन
  • अस्वस्थ जीवनशैली
  • सिगरेट, शराब और नशीले पदार्थों का सेवन
  • भोजन का ठीक न रहना
  • प्रोटिन, विटामिन और कैल्शियम की कमी
  • मानसिक भ्रम

क्या हैं यौन समस्या के लक्षण ?

दोस्तों, एक रिसर्च में ये बात साबित हो गई है कि यौन समस्या का सबसे बड़ा कारण मानसिक तनाव और भ्रम रखना है । याद रहे, जब तक आप मन और दिमाग से फ्री महसूस नहीं करेंगे तब तक समस्या आपका पीछा नहीं छोड़ेगी । समस्या चाहे कोई भी हो, लेकिन उसका नतीजा ये होता है कि शुक्राणु कम होते जाते हैं या खत्म ही हो जाते हैं इसलिए चिंता तो बिल्कुल न करें । अच्छा सोचें, अच्छा खाएं और अच्छा पहनें ।

यौन समस्या का आयुर्वेदिक गारंटीड उपचार

1. अश्वगंधा का सेवन – दोस्तों, अश्वगंधा को आयुर्वेद में ऐसी औषधि माना गया है जो पुरूषों के शरीर के हर भाग को सक्रिय कर देती है । ये पुरूषों के शरीर में मौजूद हर धातु की मात्रा को दोगुना कर देती है । अश्वगंधा के नियमित सेवन से पुरूष के शरीर में शुक्राणुओं की मात्रा तेज़ी से बढ़ने लगती है और पुरूषों के शरीर में ऊर्जा उत्पन्न होती है और पुरूष जल्दी नहीं थकता । आपको रोज़ सुबह और शाम एक चम्मच अश्वगंधा चूर्ण को शहद या दूध के साथ मिलाकर सेवन करना है ।

2. शिलाजीत – जैसा कि आप जानते हैं कि शिलाजीत ऊर्जा बढ़ाने की औषधि है । यह बहुत ताकतवर और ऊर्जावान औषधि है और इसके लगातार सेवन से पुरूषों के शरीर में वीर्य की जबरदस्त उन्नति होती है । यह बहुत गर्म होता है इसलिए याद रहे कि इसके सेवन के 2 घंटे पहले या दो घंटे बाद तक आपको गर्म और मसालेदार भोजन का सेवन नहीं करना है । जब भी शरीर थकान महसूस करे तो शिलाजीत का सेवन नई ऊर्जा भर देगा । आपको रोज़ाना एक समय पर दूध के साथ शिलाजीत का सेवन करना है ।

3. सफेद मुसली – सफेद मुसली उस समय बहुत कारगर साबित होती है जब पुरुषों में नपुंसकता के लक्षण दिखाई देने लगते हैं या वीर्य कम होने लगता है । सफेद मुसली एक जड़ औषधि है जो पुरूषों में हर तरह की कमज़ोरी को दूर करने में सक्षम है । रोज़ दिन में दो बार खाना खाने के आधे घंटे बाद गुनगुने दूध के साथ इसका सेवन हर तरह की दुर्बलता दूर कर देगा ।

4. त्रिफला औषधि – दोस्तों, त्रिफला के बारे में कौन नहीं जानता । त्रिफला न सिर्फ शक्तिवर्धक है बल्कि ये पेट संबंधित सभी रोगों को काटता है । यौन समस्या का एक कारण पेट का ठीन न रहना या पेट साफ न हो पाना भी है और त्रिफला इसमें सबसे मददगार है । ये पेट से जुड़ी सारी दिक्कतों को दूर करके पुरूष में ताकत भरता है । रोज़ सुबह नाश्ते के बाद और शाम को भोजन के बाद त्रिफला चूर्ण को शहद में मिलाकर खाएँ ।

5. कौंच बीज – दोस्तों, ये एक झाड़ीनुमा औषधि होती है । इसके बीजों को पीसकर यौन शक्तिवर्धक दवाइयां बनाई जाती हैं । इसका बीज नपुंसकता को काटकर पुरुषों में नईं ऊर्जा का संचार करता है । इसके अलावा ये शरीर में कमज़ोरी और आलस को दूर करने की परम औषधि मानी गई है । इसका चूर्ण बाजार में आसानी से उपलब्ध है । इसे रात में गुनगुने दूध के साथ सेवन करें, आप पाएंगे कि आपके शरीर में ताकत का संचार हो रहा है ।

योग अवश्य करें Yaun Samasya Ka Ayurvedic Ilaaj

रोज़ कपालभाति आसन अवश्य करें, ये शरीर को सक्रिय और यौनि को मज़बूत करता है ।

  • अनुलोम-विलोम – ये श्वास नली, ह्रदय और पेट के लिए उत्तम है ।
  • भस्त्रिका आसन पेट और यौनी को मज़बूत करता है ।

दोस्तों, आपको ये लेख कैसा लगा कमेंट करके बताएं ताकि हम और बेहतर विषयों को आपके सामने लेकर आएं ।

1 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें